ऑनलाइन कार इंश्योरेंस कैसे लें | Online Car Insurance

कार बीमा संबंधी अपने मुख्य लेख में हम बेसिक जानकारियां दे चुके हैं। इस लेख में हम जानेंगे कि आप ऑनलाइन कार बीमा कैसे करवा सकते हैं। ऑनलाइन बीमा के लिए कौन-कौन से Documents की जरूरत होती है। यह भी कि Online Car Insurance कराने के क्या फायदे हैं। कुछ अन्य बातें भी जोकि Online Car Insurance कराते वक्त ध्यान में रखनी चाहिए।

दो तरीकों से खरीद सकते हैं ऑनलाइन कार बीमा
Two ways to Buy Online Car Insurance

  1. बीमा कंपनी की वेबसाइट के माध्यम से
  2. एग्रीगेटर कंपनियों के माध्यम से

बीमा कंपनी की वेबसाइट के माध्यम से कार बीमा करवाना
Car Insurance through Companies websites

आजकल लगभग सभी बीमा कंपनियां अपने Product ऑनलाइन उपलब्ध कराने लगी हैं। भारत की प्रमुख General Insurance Companies जो कार बीमा करती हैं, उनके नाम और उनकी वेबसाइट के लिंक हम यहां दे रहे हैं—

  1. न्यू इंडिया एश्योरेंस कंपनी लिमि टेड  -www.newindia.co.in
  2. यूनाइटेड इंडिया इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड- uiic.co.in
  3. नेशनल इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड –nationalinsuranceindia.nic.co.in
  4. आईसीआई लोंबार्ड –www.icicilombard.com
  5. द ओरिएंटल इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड-orientalinsurance.org.in
  6. बजाज अलियांज –www.bajajallianz.com
  7. एचडीएफसी एरगो-www.hdfcergo.com
  8. टाटा एआईजी-www.tataaig.com
  9. रिलायंस जनरल-www.reliancegeneral.co.in
  10. चोलामंडलम-www.cholainsurance.com
  11. स्टेट बैंक कार इंश्योरेंस-www.sbigeneral.in

एग्रीगेटर कंपनियों के माध्यम से कार बीमा करवाना
Through Insurance Web Aggregators

एक Aggregator Company, ऐसी कंपनी होती है जो ग्राहकों को खुद का कोई प्रोडक्ट खुद नहीं बेचतीं। इसकी बजाय, वह अपनी वेबसाइट के माध्यम से दूसरों के product उपलब्ध कराती है।  इस सेवा को उपलब्ध कराने के बदले वह अपना कमीशन लेती हैं।

भारत भी कई ऐसी कंपनियां हैं जो Insurance Aggregator  के रूप में काम करती हैं। ये अन्य बीमा कंपनियों के प्रोडक्ट का मूल्यांकन (Valuation) और उनकी तुलना (comparison) पेश करती हैं। ग्राहक उन प्रोडक्ट में से अपनी जरूरत के हिसाब से चुनाव कर लेता है। Aggregator पर ही उस प्रोडक्ट को खरीदने का भी लिंक होता है।  इस लिंक के माध्यम से जब कोई बीमा कंपनी की Policy लेता है तो Aggregator को कमीशन मिलता है।

भारत में वाहन बीमा के क्षेत्र में Aggregator के रूप में काम करने वाली कुछ कंपनियों के नाम इस प्रकार हैं।

  • Policybazaar.com
  • coverfox.com
  • www.policyx.com
  • www.comparepolicy.com
  • www.bankbazaarinsurance.com
  • InsurancePundit.com
  • insurancemall.in
  • Myinsuranceclub.com
  • easyinsuranceindia.com

ध्यान रखें। भारतीय बीमा विनियामक एवं विकास प्राधिकरण (IRDAI) की ओर से Insurance Aggregators को एक बार में सिर्फ 3 वर्ष के लिए मान्यता दी जाती है। इस समय कौन से बीमा Aggregator मान्य हैं, उनकी लिस्ट आप IRDAI की वेबसाइट पर देख सकते हैं। इसके लिए इस लिंक का इस्तेमाल कर सकते हैं—
https://www.irdai.gov.in/ADMINCMS/cms/NormalData_Layout.aspx?mid=9.6.1&page=PageNo2337

इसे भी पढ़ें – पॉलिसी बाजार से कार इंश्योरेंस क्यों नहीं लेना चाहिए

ऑनलाइन कार बीमा कराने के लिए आवश्यक दस्तावेज
Documents for Online Car Insurance

किसी कंपनी से Online कार बीमा पॉलिसी खरीदने के लिए आपको निम्नलिखित documents की जरूरत होती है—

  • आपके driving license की फोटोकॉपी
  • आपकी गाडी के रजिस्ट्रेशन संबंधी Documents, साथ में RC (Registration Certificate) की फोटोकॉपी भी हो
  • आपके निवास संबंधी प्रमाण (address proof)
  • एक Cancel check, अगर आप प्रीमियम चुकता करने के लिए EFT (Electronic Funds Transfer) का विकल्प चुनते हैं
  • आपकी मौजूदा पॉलिसी के Documents (अगर बीमा रिन्यू करा रहे हैं या फिर बीमा कंपनी बदल रहे हैं तो)

इसे भी पढ़ें – पॉलिसी बाजार से कार इंश्योरेंस कैसे लें

ऑनलाइन कार बीमा खरीदने की प्रक्रिया
Buy Car Insurance Policy online

जैसा कि हमने ऊपर बताया कि सभी प्रमुख General Insurance Companies अपनी वेबसाइटों पर Online insurance कराने की सुविधा देती हैं। कुछ आसान से Steps पूरे करके आप मिनटों में Car insurance खरीद सकते हैं।

  • Step 1: सबसे पहले आपको एक फॉर्म अपने वाहन के संबंध में भरना होता है। इसमें अपने वाहन के type और make की जानकारी देनी होती है। इसी के आधार पर तय होता है कि आपको कितना Premium (किस्त) भरना पडेगा।
  • Step 2:-इसके बाद आपसे अपने बारे में व्यक्तिगत जानकारियां (personal details. मांगे जाते हैं। उदाहरण के लिए नाम, पता, ई मेल, फोन नंबर वगैरह।
  • Step 3: अब बारी आती है पॉलिसी के प्रीमियम भुगतान की। आप अपनी सुविधानुसार डेबिट/क्रेडिट कार्ड, Netbanking या UPI से भुगतान कर सकते हैं।

जरूर पढ़ें- मोटर इंश्योरेंस कराने से पहले 10 जरूरी बातें

ऑनलाइन कार इंश्योरेंस रिन्यू कराने का तरीका
Renew Car Insurance Policy online

कार इंश्योरेंस को Renew कराने की प्रक्रिया भी काफी कुछ नई Policy खरीदने जैसी होती है। आजकल कई बीमा कंपनियां Online बीमा रिन्यू कराने की सुविधा दे रही हैं। यहां हम एक सैंपल के रूप में Onlile Insurance Renewal की प्रक्रिया दे रहे हैं—

  • Step 1: आपको बीमा कंपनी की वेबसाइट पर जाकर insurance renewal online form सेलेक्ट करना होता है। उसमें अपनी पिछली Policy के संबंध में मांगे गए Details भरते हैं।
  • Step 2: इसके बाद अगले पेज पर जाकर आप नई पॉलिसी के details देख लेते हैं। उसकी नियम व शर्तों (Rules and Regulations) को मंजूरी देते हैं।
  • Step 3: अब आपके सामने पॉलिसी के लिए भुगतान (payment) का विकल्प आता है। अपने डेबिट/क्रेडिट कार्ड या Online Bank Account के माध्यम से भुगतान कर सकते हैं। इसी के साथ आपकी पॉलिसी का Renewal पूरा हो जाता है।

बीमा एक्सपायर होने के पहले कराना होता है रिन्यू

नियमानुसार वाहन Insurance policy की अवधि पूरी होने के पहले उसे Renew करा लिया जाना चाहिए। हालांकि, किसी insurance Policy की अवधि पूरी होने के बाद भी एक Grace Period मिलता है। अलग अलग कंपनी के अनुसार यह 3 से 30 दिन तक हो सकता है। Grace period के दौरान भी अगर आप पॉलिसी Renew करा लेते हैं तो फिर जुर्माना से बच जाते हैं।

और पढ़ें– कार इंश्योरेंस का Renewal क्यों जरूरी है

ग्रेस पीरियड के बाद करवाना पडता है नया बीमा

Grace period के बाद भी अगर आपने बीमा Renew नहीं कराया तो फिर आपको नई insurance policy ही लेनी पडती है। और नई पॉलिसी, पिछली Policy से महंगी पडती है।इसके अलावा  आपको पिछली Policy के कारण मिलने वाले कई फायदे नहीं मिल सकेंगे। जैसे कि No Claim Bonus नहीं मिलेगा। आपके वाहन का मूल्यांकन (Valuation) फिर से नए तरीके से होगा। दो पॉलिसियों के बीच में जो lapse time होता है उसके लिए आपको fine और late fee भी चुकानी पडती है।

दो पॉलिसियों के बीच में कोई हादसा हुआ तो…

और हां, अगर इस time lapse के दौरान आपकी कार से कोई गंभीर हादसा (Accident) हो गया तो सारा हर्जाना (Compensation) आपको अपने बूते भरना होगा। यह हर्जाना भी उस व्यक्ति की हैसियत के मुताबिक होगा, जिसे आपके वाहन से नुकसान पहुंचा है। इसी तरह कार के पूरी तरह नष्ट होने या चोरी होने पर भी आपको किसी तरह की मदद नहीं मिल सकेगी।

ऑनलाइन बाइक इंश्योरेंस कैसे लें


कार इंश्योरेंस कराने के पहले ध्यान रखने योग्य बातें

important points
  • डिस्काउंटस कहां मिल रहा है?
    Car insurance करने वाली कंपनियां समय-समय पर अपनी पॉलिसियों पर discounts की घोषणा करती हैं। ऐसी घोषणाओं पर नजर रखिए। बीमा कराते समय भी देखिए कि किसी कंपनी का offer तो नहीं चल रहा। संयोग अच्छा रहा तो आप अपने Premium पर अच्छी बचत पा सकते हैं।
  • IDV की गणना ठीक से हुई है?
    पॉलिसी लेते वक्त इस बात पर भी नजर रखें कि Insurance company ने आपके वाहन की Insured’s Declared Value (IDV) ठीक से लगाई है कि नहीं। यह वह रकम होती है, जो किसी हादसे में आपके वाहन के पूरी तरह नष्ट होने या चोरी हो जाने के बदले आपको मिल सकती है। आपके Premium की किस्त भी आपके वाहन के IDV पर निर्भर करती है।
  • समझदारी से करें deductible का चयन
    एक अच्छे कार बीमा के साथ premium और deductible का बेहतर संयोजन होना चाहिए। deductible दरअसल, वह हिस्सा होता है जोकि कार की Reparing होने पर आप अपनी तरफ से खुद चुकता करते हैं। बाकी का हिस्सा बीमा कंपनी चुकाती है। जितना ज्यादा deductible आप चुनेंगे, आपके प्रीमियम की किस्त उतनी ही कम होगी।
  • बढिया riders चुनें
    राइडर्स एक प्रकार के add-on covers होते हैं, इनकी मदद से आप अपना बीमा प्लान अपनी जरूरत के हिसाब से ढाल (customize) सकते हैं। आप जितने अच्छे riders चुन सकेंगे, आपका बीमा प्लान उतना ही बेहतर साबित होगा।
  • क्लेम प्रक्रिया की जानकारी करें
    सिर्फ ज्यादा फायदे वाली Insurance Policy का चयन ही काफी नहीं है। इसे समय पर और तेजी से फायदा पहुंचाने वाली भी होना चाहिए। यानी कि Claims का निपटारा करने के लिए कंपनी का तरीका क्या है? claim settlement में कंपनी का रिकॉर्ड कैसा है, इसका भी पता करें। आपकी बीमा कंपनी के पास अच्छी customer support facility होनी चाहिए।
  • ऑनलाइन renewal process है कि नहीं?
    कार बीमा की अवधि खत्म होने के बाद उसे Renew भी कराना पडेगा। बेहतर होेगा कि ऐसी कंपनी की Policy चुनें जो कि Online Renewal की सुविधा दे रही हो। वरना आपको Renew करवाने के लिए अलग से समय निकालना पडेगा और परेशान होना पडेगा।

क्या कार डीलर की बजाय बाहर से बीमा ले सकते हैं?
Can I buy new car insurance from outside

शायद यह सवाल आपके दिमाग में जरूर उभरा होगा कि क्या कार डीलर के अलावा भी कहीं Car Insurance करवाया जा सकता है? एक शब्द में इसका उत्तर है, हां।

सामान्यत: कार कंपनियां, अपने शोरूम में, कार के साथ ही Car Insurance भी उपलब्ध कराती हैं। Insurance Companies के साथ गठबंधन (Collaboration) करके वे ऐसा करती हैं। इसके बदले में वे Insurance Companies से कुछ कमीशन भी प्राप्त करते हैं। लेकिन, Car Dealer से ही कार बीमा कराना अनिवार्य है, ऐसा कतई नहीं है। आप चाहें तो अलग से कहीं भी अपनी Car का Insurance करवा सकते हैं।

बाहर से कार बीमा करवाना फायदेमंद कैसे?

अगर आप कार बीमा खरीदने के संबंध में कुछ basic जानकारियां रखते हैं तो फिर बाहर से बीमा खरीदना आपके लिए फायदेमंद होगा। जानते हैं ​कैसे?

कार डीलर जो Insurance Policy आपको उपलब्ध कराएगा, उसमें बहुत सी ऐसी चीजें (Add On) भी जुडी हो सकती हैं, जिनकी आपको जरूरत ही न हो। हर Add On आपको कुछ सुविधा देता है, तो उसके बदले में आपसे कुछ कीमत भी लेता है। इस तरह से , हर Add On के एवज में आपके बीमे का Premium (किस्त) कुछ न कुछ बढ जाती है।

आप अपने insurance में उन चीजों को शामिल करा सकेंगे, जिनकी आप वास्तव में जरूरत समझते हैं। और फिर आप Insurance Company के प्रतिनिधि से डायरेक्ट बात करके, discounts वगैरह बेहतर तरीके से हासिल कर सकेंगे।

कार डीलर से ही बीमा ले रहे हैं तो…

इसके लिए सबसे अच्छा तरीका यह है कि आप कार का on Road price चुकाने से पहले कार डीलर से उस सौदे की invoice मांगिए।  इसके बाद कम से कम दो से तीन Insurance Companies से उनका quotations (सुविधाओं और प्रीमियम का डिटेल) मांग लीजिए। अब आप उन सभी quotations को देख लीजिए। तुलना करके समझ लीजिए कि आपकी जरूरत के हिसाब से किस Insurance Company का प्रस्ताव सबसे बेहतर है।

इस तरीके से आप कम से कम 10 से 25% तक की बचत कर सकते हैं।

नई और पुरानी दोनों तरह की कारों के लिए ले सकते हैं बीमा

कार चाहे आपने चाहे नई खरीदी हो, या पुरानी दोनों तरह की कारों का Online Insurance करवा सकते हैं। लेकिन, ध्यान रखें! बहुत सी कंपनियां एक निश्चित समयावधि (10 साल से ऊपर की) से ज्यादा पुरानी कारों का Online insurance  नहीं करती हैं।

अलग-अलग जरूरत के हिसाब से होता है बीमा
Which type of Insurance do You need?

car insurance contract

कार इंश्योरेंस के तहत मुख्य रूप से दो तरह की पॉलिसी होती हैं— Third Party Liability और Comprehensive Insurance Policy।

  • Third party बीमा पॉलिसी के तहत, आपके वाहन से किसी अन्य को चोट पहुंचने या किसी अन्य की संपत्ति के नुकसान का हर्जाना (compensation) चुकाया जाता है। यह हर्जाना उस व्यक्ति को मिलता है जिसे नुकसान पहुंचा है।
  • कंप्रिहेंसिव बीमा पॉलिसी (comprehensive insurance policy)के तहत, आपको थर्ड पार्टी बीमा का लाभ तो मिलता ही है, आपके खुद के वाहन को पहुंचे नुकसान का भी मुआवजा मिलता है। दोनो ही तरह की स्थितियों में बीमा कंपनी मुआवजा देती है।
  • एड ऑन सुरक्षा: ये मुख्य बीमा पॉलिसी के अलावा, अलग-अलग तरीकों की सहायक बीमा सुरक्षाओं के लिए होते हैं। जैसे कि—जैसे No Claim Bonus Protection, Accident Cover, Invoice Protection, Roadside Assistance वगैरह।

ध्यान रखें कि Motor Vehicle Act (MV Act), 1989 के अनुसार, ऐसे सभी वाहन जो public place पर चलते हों या उपयोग किए जाते हों उनके लिए कम से कम Third Party Liability बीमा अनिवार्य है। बिना बीमा के वाहन पकडे जाने पर उसके खिलाफ जुर्माना और कानूनी कार्रवाई हो सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.